राजस्थान सरपंच चुनाव संतान सम्बन्धी नियम क्या है ? जाने

आगामी राजस्थान सरपंच इलेक्शन 2020 में सरपंच पद के लिए होने वाले चुनावों में संतान सम्बन्धी नियमों में नही किया किया गया किसी प्रकार का कोई बदलाव . लेकिन न्यूनतम साक्षरता नियमों किये गये महत्वपूर्ण बदलाव .. आइये जाने Sarpanch Chunav से सम्बन्धित इन महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में

1
सरपंच चुनाव संतान सम्बन्धी नियम

राजस्थान में आगामी पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव 2020 (sarpanch chunav 2020) में होने जा रहे है .जिसकी तैयारिया प्रदेश में बड़े जोर-शौर से चल रही है और राज्य निर्वाचन आयोग, राजस्थान द्वारा भी इसकी समस्त तैयारिया लगभग पूर्ण कर ली गई है .आइये जाने इस बार राजस्थान सरपंच चुनाव में संतान सम्बन्धी क्या नये नियम है ? जाने

सूत्रों से मिली जानकरी के मुताबिक राजस्थान में सरपंच और पंचो के ये चुनाव 3 चरणों (18 जनवरी , 24 जनवरी और 01 फरवरी 2020) को करवाए जाने की उम्मीद है ,हालाँकि अभी तक इस बात की आधिकारिक तौर पर पुष्टि नही की गई है . जैसे ही इस सम्बन्ध में कोई अधिसूचना जारी की जाएगी उसकी जानकारी आपको हमारे फेसबुक पेज पर तुरंत आपको दे दी जाएगी . पेज का लिंक निचे दिया है क्रप्या उसे अभी लाइक कर ले..

सरकारी योजना इनफार्मेशन फेसबुक पेज 

राजस्थान सरपंच चुनाव 2020 संतान सम्बन्धी नियम और पात्रता

Sarpanch Chunav Yogyata : यहाँ हम बात कर रहे थे की इस बार राजस्थान में होने वाले सरपंच पद के चुनावों में सरकार द्वारा सन्तान सम्बन्धी क्या नियम और पात्रता निर्धारित की गई है ? (How many child are allowed in Rajasthan Sarpanch Election 2020 ? )

राजस्थान पंचायत चुनाव काफी नजदीक आ गये है और ऐसे में हर कोई जानना चाहता है की सरपंच पद के उम्मीदवार हेतु वर्ष 2020 में सरकार द्वारा क्या प्रावधान और नियम बनाये गये है . ख़ास तौर पर इस बार सरपंची के लिए संतान हेतु क्या कोई संशोधन अशोक गहलोत सरकार द्वारा किया गया है या नही .

तो जानकारी के लिए आपको बता दे की राजस्थान सरकार द्वारा संतान सम्बन्धी नियमों में कोई बदलाव नही किया गया है , ये पहले के अनुसार ही है की यदि किसी व्यक्ति के दो से अधिक बच्चे तो वो चुनाव नही लड़ सकते

हालाँकि इस बार शिक्षा सम्बन्धी बदलाव अवश्य किये गये है , जिनमे सरपंच एवं पार्षद पद का चुनाव लड़ने के 2015 में वसुंधरा राजे सरकार ने शैक्षणिक योग्यता की बाध्यता को लागु किया था उसे वर्तमान गहलोत सरकार ने निष्क्रिय कर दिया है जिसके बाद इस बार के सरपंची के चुनाव को कोई भी व्यक्ति लड़ सकता है चाहे वो पढ़ा-लिखा हो या नही.

इसके अलावा राजस्थान सरपंच चुनाव 2020 से सम्बन्धिक और अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर जाकर पढ़ सकते है .

राजस्थान पंचायत सरपंच चुनाव 2020 की जानकारी हिन्दी में यहाँ पढ़े  

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here