किसान सूर्योदय योजना पीएम मोदी ने की लॉन्च, जानिए किसानों को क्या फायदा होगा

0
Kisan Suryoday Yojana

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा गुजरात के किसानों के लिए ‘किसान सूर्योदय योजना’ (Kisan Suryoday Yojana for Farmers in Gujarat 2020) की शुरुआत 24 अक्टूबर 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा की जा चुकी है। इस योजना के तहत प्रदेश के किसानों (Farmers) को खेतों में सिंचाई के लिए रोजाना 16 घंटे बिजली की आपूर्ति (Power Supply) की जायेगी .आइये जाने गुजरात किसान सूर्योदय योजना क्या है ? इस स्कीम के उद्देश्य , लाभ, पात्रता और आवेदन प्रक्रिया से जुड़ी विस्तृत जानकारी।

Kisan Suryoday Yojana 2020

मुख्यमंत्री विजय रूपानी के नेतृत्व में गुजरात राज्य में किसानों को खेतों में सिंचाई के लिए बिजली की आपूर्ति सुचारू रूप से करने के लिए हाल ही में Kisan Suryoday Yojanaकी घोषणा की गई थी। इस योजना के तहत किसानों को सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक (16 घंटे) बिजली की सप्लाई की जायेगी। योजना क्रियान्वयन के लिए राज्य सरकार ने 2023 तक ट्रांसमिशन इन्फ्रास्ट्रक्चर स्थापित करने के लिए 3500 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। इस किसान सूर्योदय योजना के तहत 220 किलोवाट क्षमता वाले सब स्टेशन के साथ ही 3490 सर्किट किलोमीटर (CKM) लंबी के 234 ‘66 – किलोवाट क्षमता वाली ट्रांसमिशन लाइनें लगाई जाएंगी।

ये भी पढ़े:  [Form Apply] Vahali Dikri Yojana in Gujarat 2020 | व्हाली दीकरी योजना
Kisan Suryodaya Yojana  for farmers in Gujarat

किसान सूर्योदय योजना के शुरूआती चरण 2020-21 में गुजरात राज्य के 10 जिलों ( दाहोद, पाटन, महिसागर, पंचमहल, छोटा उदेपुर, खेड़ा, तापी, वलसाड, आनंद और गिर-सोमनाथ ) को शामिल किया गया है। प्रदेश के शेष जिलों को भी इस योजना के तहत 2022-23 तक चरणबद्ध तरीके से कवर किया जाएगा।

इसे भी देखें : Gujarat Vahali Dikri Yojana

Highlights of Kisan Suryoday Yojana

योजना का नामकिसान सूर्योदय योजना
इसके द्वारा शुरू की गयीगुजरात राज्य सरकार द्वारा
उद्घाटनप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 अक्टूबर 2020 को
लाभार्थीगुजरात प्रदेश के किसान
उद्देश्यराज्य में खेतों की सिंचाई के लिए बिजली की आपूर्ति करना

किसान सूर्योदय योजना का मुख्य उद्देश्य

पीएम मोदी के अनुसार सुजलाम-सुफलाम और सौनी योजना के बाद, अब किसान सूर्योदय योजना गुजरात के किसानों के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को मजबूती प्रदान करना एवं किसान को खेतों की सिंचाई के लिए बिजली की आपूर्ति को पूरा करना है। इस योजना के तहत अब आने वाले समय में किसानों को खेतों में सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में बिजली मिल सकेगी, जिससे कृषि उत्पाद में बढ़ोतरी होगी और किसान के आर्थिक हालात सुधरेंगे।

ये भी पढ़े:  बाँस सब्सिडी योजना 2020 मध्यप्रदेश - किसानों को 50% अनुदान पर मिलेंगे बाँस के उन्नत पौधे

गुजरात किसान सूर्योदय योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ गुजरात राज्य के किसानों को मिलेगा।
  • 3 वर्षों में राज्यभर में होगा योजना का विस्तार।
  • योजना के तहत किसानों को खेतों में सिंचाई के लिए दिन में 16 घंटे बिजली मिल सकेगी।
  • इस योजना के तहत किसानों को दिन में सौर ऊर्जा द्वारा सिंचाई के लिए बिजली की आपूर्ति की जायेगी।
  • पहले ज्यादातर किसानों को केवल रात में ही सिंचाई के लिए बिजली मिलती थी जिससे एक तो उन्हें रात भर जागना पड़ता था और दूसरा अनेक इलाकों में जंगली जानवरों की समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है जिससे अब छुटकारा मिल सकेगा।
  • नई Kisan Suryoday Yojana के तहत किसानों को सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक Three Phase की बिजली आपूर्ति दी जाएगी।
Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here