राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़, 19 लाख किसानों को दूसरी किश्त में दिए गये 1500 करोड़

0
Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Chhattisgarh

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़: कृषि फसलो का बाजार में उचित दाम दिलाने व फसल उत्पादकता में वृद्धी के लिए छतीसगढ़ राज्य सरकार एक नवीनतम योजना लेकर आई है, जिसका नाम राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ । राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस योजना का उदघाटन करते हुए कहा की उन्होंने छतीसगढ़ के किसानों से चुनाव से पहले वादा किया था की उनकी हर योजना के केंद्र में राज्य का किसान होगा इसी वादे को निभाते हुए मुख्यमंत्री ने इस योजना का शुभारम्भ किया है । उन्होंने कहा की देश के किसानों के आर्थिक विकास के लिए केंद्र सरकार नई नई योजनाये लेकर आ रही है, उसी तर्ज पर हम भी हमारे राज्य के किसानों को खेती में नवाचार की और ले जाने व कृषि कार्यों में होने वाली लागत को कम करने के लिए एक योजना लेकर आये है तथा देश के किसानो के विकास में अहम योगदान देने वाले प्रधानमंत्री राजीव गाँधी जी की पुण्यतिथि 21 मई को ही योजना का उदघाटन कर उन्ही के नाम पर इस योजना का शुभारम्भ किया गया है |

इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ के 19 लाख किसानों को 1500 करोड़ रूपये 2 किश्त में आंवटित किये जायेंगे । इस योजना के तहत खेती में होने वाली लागत को कम कर किसानो को सहायता राशी देने का प्रावधान है । इस योजना के तहत खरीफ सीजन की फसल मक्का ,सोयाबीन ,धान ,मूंगफली ,अरहर ,तिल ,उड़द, मुंग, रामतिल ,कुटकी,कोदो, फसलों को शामिल किया गया है तथा रबी की गन्ना फसल को इस योजना में शामिल किया गया । इस योजना के तहत 10 हजार रूपये प्रति एकड़ की दर से किसानो को सहायता प्रदान की जाएगी तथा गन्ने की खेती के लिए 13000 रूपये प्रति एकड़ की सहायता दी जाएगी ।

ये भी पढ़े:  पैडी ट्रांसप्लांटर मशीन से धान की रोपाई पर सरकार देगी किसानों को 3000 रूपये प्रति एकड़

पैडी ट्रांसप्लांटर मशीन से धान की रोपाई पर सरकार देगी किसानों को 3000 रूपये प्रति एकड़

राजीव गांधी किसान न्याय योजना

Highlights of Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

योजना का नामराजीव गांधी किसान न्याय योजना छतीसगढ़
किसने लॉन्च कीमुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने
पहली किश्त की दिनाकं21 मई
लाभार्थीराज्य के कृषक
योजना का उद्देश्यकिसानो की कृषि लागत को कम कर सहायता प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटअभी जारी नही की

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ का उदेश्य-

इस योजना का मुख्य उदेश्य है राज्य के किसानो को खेती नवाचार की और प्रेरित कर खेती किसानी में होने वाली लागत को कम कर उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करना । तथा उनकी फसल का उचित मूल्य अर्थात न्यूनतम समर्थन मूल्य उचित रूप से दिलाना तथा उनकी गन्ने की फसल पर बोनस दिलवाना ताकि खेती करने में लगने वाली लागत कम करना व उनके आर्थिक हालत में सुधार करना यहीं इस योजना का मुख्य उदेश्य है ।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना लिस्ट –

इस योजना में कुल राशी 5750 करोड़ रूपये निर्धारित की गई है जिसे 4 किश्तों में बांटा जायेगा । ये राशी सीधे किसानो के बैंक खातो में ट्रांसफर की जाएगी । इस योजना में अभी तक सरकार द्वारा 2 किस्तों की लिस्ट (List) जारी की जा चुकी है । इस योजना के तहत पहली किश्त के 1500 करोड़ रूपये राजीव गाँधी की पुण्यतिथि 21 मई को पहले ही जारी किये जा चुके है । तथा दूसरी योजना के 1500 करोड़ रूपये 20 अगस्त को जारी किये जा चुके है । तीसरी किश्त के पैसे भी जल्द ही जारी कियें जायेंगे ।

ये भी पढ़े:  (Gobar Kharid CG) गोधन न्याय योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन लाभ व पात्रता
Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojna chhatishgarh Information

किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ में राशी आवंटन का विवरण –

इस योजना के तहत छतीसगढ़ के लाभाविंत होने वाले किसानो में 9 लाख 55 हजार के लगभग सीमांत कृषक है , 5 लाख 61 हजार लघु कृषक है ,तथा 3 लाख 21 हजार 538 दीर्घ कृषक शामिल है । दूसरी किश्त की राशी का संभागवार विवरण इस प्रकार से है –

संभाग लाभार्थी किसानो की संख्याराशी
रायपुर5 लाख 60 हजार 7944 करोड़ 63 लाख 86 हजार रूपये
दुर्ग5 लाख 57 हजार 3034 करोड़ 28 लाख 13 हजार रूपये
बिलासपुर4 लाख 56 हजार 1003 करोड़ 91 लाख 63 हजार रूपये
सरगुजा1 लाख 19 हजार 5311 करोड़ 4 लाख 85 हजार रूपये
बस्तर1 लाख 44 हजार 8641 करोड़ 11 लाख 88 हजार रूपये

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ में निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य –

इस योजना के तहत किसानो को फायदा पहुचाने के लिए छतीसगढ़ सरकार ने गन्ने व् धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित कर दिया है इस योजना के तहत किसानो को धान की फसल का समर्थन मूल्य 2500 रूपये प्रति किवंटल देगी राजीव गांधी किसान न्याय योजना छतीसगढ़ में गन्ने का भी न्यूनतम समर्थन मूल्य सरकार द्वारा निर्धारित कर दिया गया है ।

न्याय योजना छत्तीसगढ़ में आवेदन के लिए पात्रता –

  • इस योजना में आवेदन करने वाले आवेदक का छतीसगढ़ का निवासी होना आवश्यक है ।
  • इस योजना में आवेदन करने के लिए वे किसान पात्र होंगे जो धान की खेती करते है ।
  • आवेदक का बैंक खाता होना अनिवार्य ।
  • आवेदक पहले से ऐसी किसी योजना का लाभ नही ले रहा हो ।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ में आवेदन के लिए दस्तावेज –

  • आधार कार्ड
  • आधार लिंक मोबाईल नम्बर
  • पहचान पत्र
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पास बुक
  • फोटो

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ में आवेदन कैसे करें –

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छतीसगढ़ में आवेदन करने के लिए अभी आपको इन्तजार करना होगा क्योंकि अभी तक इसकी ऑफिसियल वेबसाइट की घोषणा नही हुई है जैसे ही इस योजना के शुरू करने की अधिकारिक घोषणा होगी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम अवगत करवा देंगे ।

इसे भी पढ़े : गोधन न्याय योजना 2020

प्रिय किसान भाइयो राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ से जुड़ी हर जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से देने की कोशिश की है और इस योजना से जुड़ी कोई भी जानकारी आती है तो हम आपको इसी आर्टिकल के माध्यम से अवगत करवा देंगे अगर आपको कोई समस्या आती है तो आप हमें निचे कमेन्ट बॉक्स में लिख सकते है हम आपकी समस्या का समाधान करने की पूरी कोशिश करेंगे ……धन्यवाद

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here