इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना 2020 महिलाओं को मिलेंगे 6000 रुपए- IGMPY

3
Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan

इंदि‍रा गांधी मातृत्‍व पोषण योजना आवेदन फॉर्म | Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana In Hindi | IGMPY Apply Online Regstrion Form | इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना 2020

राजस्थान राज्य सरकार “इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना” (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana) के तहत महिलाओं को दूसरी संतान के जन्म पर 6000 रूपये की सहायता राशि प्रदान करती है। महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के अनुसार सरकार की इस योजना के तहत आने वाले 5 वर्षों में 225 करोड़ रूपये की राशि खर्च की जायेगी, जिससे प्रदेश की 3.75 लाख महिलाओं को इसका लाभ मिलेगा । आइये जानते है सरकार की इस नई स्कीम के बारे में विस्तृत जानकारी

Indira Gandhi Matritva Poshan scheme

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Highlights

योजना का नाम इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना (IGMPY)
घोषणा मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा वर्ष 2020-21के बजट में
विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग, राजस्थान
सहायता राशि दूसरी संतान पर 6000 रूपये
बजट राशि5 वर्षों में लगभग 3.75 लाख 
लाभार्थियों पर 225 करोड़ रुपये होंगे व्यय

इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना की मुख्य विशेषताएं

  • यह (IGMPY) मातृत्व लाभ योजना है।
  • इस योजना के तहत दूसरे बच्चे के जन्म पर माँ को 6000 रूपये की राशि प्रदान की जाती है। 
  • आने वाले 5 वर्षों में 3.75 लाख महिला लाभार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा। जिसमें 225 करोड़ रूपये के खर्च का अनुमान है।
  • योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष 75 हजार महिला लाभार्थियों को शामिल कर लगभग 45 करोड़ का व्यय किया जाएगा।
  • योजना का 100% अंशदान राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • राजस्थान राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana केंद्र सरकार की Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana (PMMVY) की पूरक होगी जिसमे पहले बच्चे के जन्म के लिए 5000 रूपये प्रदान किये जाते है।

योजना उद्देश्य

महिला एवं बाल विकास विभाग, Rajasthan के द्वारा संचालित इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य दुसरे बच्चे के जन्म पर माताओं को उचित पोषण मिल सके , ताकि स्तनपान करने वाली माओं और बच्चे के स्वास्थ्य में किसी प्रकार की कोई कमी ना आने पाए । यानि सरकार द्वारा दुसरे बच्चे के जन्म के उपरांत माँ और बच्चे के उचित पोषण को सुनिश्चित करना है।

IGMPY इन चार जिलों में होगा पायलट प्रोजेक्ट शुरू

जानकारी के लिए आपको बता दे की राज्य सरकार द्वारा राजस्थान के 4 जिलों उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इसे शुरू किया जायेगा । इन चारों जिलों में पोषण के संकेतक राजस्थान के औसत की तुलना में बहुत कम है, इसलिए इन जिलों पर सरकार द्वारा विशेष ध्यान दिया गया है । Indira Gandhi Matritva Poshan scheme official notification यहाँ देखें

Print Friendly, PDF & Email

3 COMMENTS

  1. […] जाती है। इस योजना की शुरुआत साल 2010 में इंदिरा गांधी मातृ सहयोग योजना (IGMSY) के रूप में की गई थी। बीजेपी के […]

  2. My name is ria kundu Das .my has one son his age 10 month our very poor but l no money in my son birth .please 6000 arranged his many. Thanks you sir

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here