बजट 2021 में PM Kisan Yojana की राशि 6,000 से बढ़कर 10,000 रुपए हो सकती है

बड़ी खबर : किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) पीएम किसान सम्मान निधि योजना की धनराशि में कर सकती है बढ़ोतरी, Budget 2021-22 में PM Kisan Yojana की राशि को 6000 से बढ़ाकर 10000 रुपये करने का हो सकता है ऐलान..पूरी खबर पढ़े

0
बजट 2021 में पीएम किसान योजना की राशि में बढ़ोतरी

बजट 2021 में पीएम किसान योजना की राशि में बढ़ोतरी | PM Kisan Yojana Amount Increased Budget 2021 | पीएम किसान योजना लेटेस्ट न्यूज़ 2021 | बजट में किसानों को क्या मिला ?

किसानों के लिए खुशखबरी! किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में केंद्र सरकार वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में कृषि क्षेत्र (agriculture sector) के लिए अनेक बड़ी घोषणाएं कर सकती है। हाल ही में सरकार द्वारा देश में तीन कृषि कानूनों (Farm Laws) को लागू किया गया था जिसका किसान लगातार विरोध कर रहे है। नये कृषि कानूनों को लेकर वर्तमान में देश में चल रहे किसान आंदोलन के बीच सरकार का पूरा फोकस इस बार किसानों पर है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) 1 फरवरी 2021 को वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट (Budget 2021-22) पेश करने जा रही है।

खबरों के मुताबिक़ इस बार के बजट (Budget 2021-22) में सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती है, जी हाँ मीडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार इस बार के बजट में Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojna (PMKISAN) की राशि को सालाना 6000 रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये कर सकती है।

बजट 2021 में सरकार बढ़ा सकती है पीएम किसान योजना की राशि

Budget 2021 PM Kisan : एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस बार के बजट (Budget 2021-22) में 3 नये कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों को खुश करने के मकसद से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कृषि क्षेत्र (agriculture sector) के लिए अनेक बड़ी घोषणाएं कर सकती है। ऐसे में अटकले लगाई जा रही है की सरकार द्वारा पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक वित्तीय सहायता राशि को 6 हजार रुपये से बढाकर 10 हजार रुपये कर सकती है।

बजट में किसानों की है ये मांग:-

वैसे भी लम्बे समय से किसान भी सरकार से लगातार पीएम किसान योजना की रकम को बढ़ाने की मांग करते आ रहे है। किसानों का कहना है की सरकार किसानों को जो 6000 रुपये की राशि पीएम किसान योजना के रूप में दे रही है वो उनके लिए अपर्याप्त है। किसानों के अनुसार एक तरह से देखा जाए तो इस योजना के जरिये उन्हें सिर्फ 500 रूपये महिना ही मिलते है। इतनी कम रकम से वो अपने खेत में होने वाले खर्च को पूरा नही कर पाते है।

किसानों का कहना है की उन्हें 1 बीघे में धान की फसल लेने में करीब 3-3.5 हजार रुपये का खर्च होता है और गेहूं की फसल लेने में करीब 2-2.5 हजार रुपये खर्च होता है। ऐसे में जिन किसानों के पास 1 बीघा से अधिक कृषि भूमि है उनके लिए 6 हजार रुपये की राशि बहुत कम है। ऐसे में राशि में इजाफा होना चाहिए ताकि खर्चों को पूरा किया जा सके।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत दिसंबर 2018 में हुई थी

pm kisan yojana latest news hindi Budget 2021

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए अनेक किसान हितैषी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है, PM Kisan Yojana उनमे से एक है। केंद्र सरकार द्वारा इस स्कीम की शुरुआत देश में 1 दिसंबर 2018 को की गई थी और इस योजना के तहत सालाना दो-दो हजार रुपये की 3 किस्तों में कुल 6000 रुपये की राशि किसानों के बैंक खाते में भेजी जाती है। इस योजना के तहत अप्रैल-जुलाई, अगस्त-नवंबर और दिसंबर-मार्च की अवधि में किसानों के बैंक खाते में पैसे भेजे जाते हैं और योजना का लाभ सभी किसानों को मिलता है। pmkisan.gov.in वेबसाइट पर जारी ताजा आकड़ों के मुताबिक अब तक 11.51 करोड़ लाभार्थी हैं।

Web Title : pm kisan yojana financial help may be increased in Budget 2021-2022 from rupees 6000 to 10000 yearly

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here