Advertisement
Home Rajasthan Sarkari Yojana Rajasthan Janta Clinic Yojana 2019 | राजस्थान “जनता क्लिनिक” योजना क्या है...

Rajasthan Janta Clinic Yojana 2019 | राजस्थान “जनता क्लिनिक” योजना क्या है ? जाने

1
Rajasthan Janta Clinic Yojana
Advertisement

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने 10 जुलाई को राजस्थान परिवर्तित बजट वर्ष् 2019—20 में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के तहत “Janta Clinic” खोलने की घोषणा की है । इन क्लिनकों को आपके गल्ली /मोहल्लों में खोला जाएगा, इन जनता क्लिनकों का मुख्य उदेश्य राज्य के नागरिकों को प्राथमिक उपचार तत्काल और नि:शुल्क उपलब्ध करवाना होगा।

Rajasthan Janta Clinic

राजस्थान “जनता क्लिनिक” योजना क्या है ? जाने : Rajasthan Janta Clinic में नि:शुल्क दवा योजना के तहत दवाईया उपलब्ध करवाई जायेगी और इन क्लिनकों को किसी समाजसेवी अथवा दानदाता द्वारा उपलब्ध करवाये गये भवनों में खोला जाएगा।

इस दिशा में Rajasthan Janta Clinic Yojana 2019 की सम्पूर्ण गाइडलाइन राजस्थान सरकार द्वारा जल्द घोषित कर दी जायेगी ।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य बजट 2019

Advertisement

इसके अतरिक्त राजस्थान सरकार द्वारा गरीब लोगों का निशुल्क ईलाज हो सके इसके लिए मुख्यमंत्री निशुल्क दवा और जांच योजना भी शुरू कर रखी है ,जिसके तहत राज्य में अभी तक 608 दवाइयाँ फ्री में प्रदान की जा रही थी । 

इस बजट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार ने किडनी,हार्ट और कैंसर (Kidney, Heart and Cancer) जैसे गंभीर रोगों (Serious diseases) की दवाइयों को भी निशुल्क कर दिया है। बजट में 104 प्रकार की नई दवाइयों को इसमें शामिल किया गया है इसके साथ ही निशुल्क मिलने वाली कुल दवाइयों की सख्या अब 608+104 = 712 हो गई है । 

बजट में इन दवाइयों के अलावा Medical college से सम्बन्धित Hospitals में होने वाली निशुल्क जांचों की सख्या को भी 70 से बढ़ाकर 90 कर दिया गया है । 

वर्तमान समय में सिर्फ जयपुर के SMS Hospital में ही वरिष्ठ नागरिकों और BPL परिवारों के लिए City Scan एवम MRI की जाँच फ्री में करवाई जा सकती थी, जिसे अब राजस्थान के अन्य सभी मेडिकल कालेजों के हॉस्पिटलस में भी लागू कर दिया गया है । 

  • आने वाले 5 वर्षों में राज्य में 200 नये स्वास्थ्य उपकेन्द्र खोले जायेंगे । 
  • राज्य में 5 नये Troma Center भी खोले जायेंगे । 
  • 50 नये प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोले जायेंगे । 
  • 10 स्वास्थ्य उप केन्द्रों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में क्रमोनत किया जाएगा । 
  • प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में 500 बैड बढ़ाये जायेंगे । 
  • सवाईमाधोपुर जिले के गंगापुर सिटी के वर्तमान चिकित्सालय को कर्मोनत किया जाएगा । 

अन्य नई योजनाएँ 2019-20 :

Advertisement

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here