PM Swamitva Yojana क्या है ? जाने इसके लाभ, पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण के बारे में

4
PM Swamitva Yojana

Swamitva Yojana: प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा पंचायती राज दिवस 2020 के अवसर पर स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया गया ( PM Narendra Modi launched the Swamitva Scheme ) । केंद्र सरकार यह योजना ग्रामीण भारत के लोगों को उनकी संपत्ति का मालिकाना हक दिलाने और उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए है।

जैसा की आप सभी लोग जानतें ही है की मोदी सरकार द्वारा साल 2015 में डिजिटल इंडिया की शुरुआत की गई थी, जिसके बाद से सरकार द्वारा इसके तहत विभिन्न सरकारी सेवाओं को इंटरनेट के माध्यम से जनता तक पहुँचने का कार्य किया जा रहा है । अब इस योजना के अंतर्गत एक कदम और बढ़ाते हुए सरकार ने ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और स्वामित्व योजना की शुरुआत की है । दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको Swamitva Yojana क्या है ? योजना लाभ, पात्रता और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान कर रहे है .

what is swamitva yojana in hindi
what is swamitva yojana in hindi

स्वामित्व योजना क्या है ? What is Swamitva Yojana in Hindi

स्वामित्व योजना देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को ग्रामीण क्षेत्रों में आवासीय भूमि (प्रॉपर्टी) का एक मालिकाना प्रमाण पत्र जारी कर भू-माफियाओं द्वारा किये जा रहे फर्जीवाड़े को खत्म करने के लिए की शुरू की गई एक सरकारी योजना है । इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा पुरे देश के सभी गांवों में आवासीय भूमि की ड्रोन से मैपिंग की जाएगी। इसके बाद गांव के लोगों को प्रॉपर्टी का एक मालिकाना प्रमाण पत्र (Title Deed Certificate) दिया जाएगा।

भारत में भूमि संपत्ति रिकॉर्ड के रखरखाव में क्रांति लाने के उद्देश्य से यह योजना प्रधानमंत्री द्वारा पंचायती राज दिवस पर शुरू की गई थी ।

पीएम स्वामित्व योजना विवरण

योजना का पूरा नामपीएम स्वामित्व योजना
विभागपंचायती राज मंत्रालय
किसके द्वारा शुरू की गई (घोषणा) प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा
आरंभ तिथि24 अप्रैल 2020 को
उद्देश्यप्रॉपर्टी विवाद खत्म कर गावों में विकास योजनाओं की बेहतर प्लानिंग करने के उद्देश से ।
वेबसाइटhttps://egramswaraj.gov.in

बेनिफिट ऑफ पीएम स्वामित्व योजना (लाभ)

प्रधानमंत्री मोदी ने बतलाया की स्वामित्व योजना से गांव के लोगों को एक नहीं अनेक लाभ होंगे। आइये जाने प्रधानमंत्री के अनुसार इस स्कीम से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों, किसानों को क्या-क्या लाभ मिलेंगे .

ये भी पढ़े:  24000 रुपये मिलेंगे अब PM किसान योजना के तहत- भारतीय किसान यूनियन

मोदी द्वारा पंचायती राज दिवस के अवसर पर ग्राम पंचायतों के सरपंचों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बातचीत करते हुए बताया की करीब 5 साल पहले देश की 100 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोड़ा गया था । लेकिन आज के समय में यह संख्या 1,25,000 से भी अधिक हो गई है और ग्राम पंचायतें इंटरनेट का लाभ उठा रही हैं। इसके अलावा देश में वर्तमान में कॉमन सर्विस सेंटरों की संख्या भी 3.25 लाख से अधिक हो चुकी है जो लोगों को निरंतर अपनी सेवा पहुंचा रहे है .

पीएम स्वामित्व योजना शुरू होने से ग्रामीण इलाकों की जनता को जो-जो लाभ होंगे वो निम्नलिखित प्रकार से है..

  • पहला लाभ तो यही कि प्रॉपर्टी को लेकर जो भ्रम की स्थिति रहती है वो दूर हो जाएगी।
  • दूसरा इससे गांव में विकास योजनाओं की बेहतर प्लानिंग में और ज्यादा मदद मिलेगी।
  • इसका एक और बड़ा लाभ ये होगा कि इससे शहरों की ही तरह गांवों में भी बैंकों से लोन मिलने का रास्ता और आसान हो जाएगा।
  • भू-माफियाओं द्वारा किये जा रहे फर्जीवाड़े को खत्म किया जा सकेगा ।
  • गांवों में आवासीय भूमि को गैर-विवादित रिकॉर्ड बनाने के लिए ड्रोन की सहायता से मापा जाएगा। यह भूमि के सर्वेक्षण और मापन के लिए नवीनतम तकनीक है।
  • देश के सभी गावों की ड्रोन-मैपिंग तकनीक की मदद से प्रत्येक संपत्ति के लिए संपत्ति कार्ड तैयार किया जाएगा। जिसके बाद प्रॉपर्टी का एक मालिकाना प्रमाण पत्र संपत्ति मालिकों को दिया जाएगा जो की भूमि राजस्व विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त होंगे।
  • ग्रामीण इलाकों में आवासीय संपत्ति का रिकॉर्ड बन जाएगा जिसके बाद संपत्ति के मालिकों से Tax लिया जा सकेगा। इस टैक्स से जो धनराशि एकत्रित होगी उसे ग्रामीण इंफ्रक्सट्रक्चर के लिए इस्तेमाल कर गांव के विकास कार्यों में उपयोग में लिया जा सकेगा।
  • शहरों की ही तरह अब गावों में भी बैंकों से लोन मिलने का रास्ता और अधिक आसान हो जाएगा ।

योजना का शुरूआती चरण

पीएम मोदी ने बताया की अभी यह योजना देश के 6 राज्यों उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में प्रायोगिक तौर पर, एक बड़े एक्सपेरिमेंट के तौर पर, शुरु की जा रही है। इससे जो अनुभव मिलेंगें, जहां कमियों को ठीक करना होगा, जहां सुधार करना होगा, वो सब सुधार करने के बाद इस योजना को 2024 तक पूरे देश में लागू किया जाएगा।

ये भी पढ़े:  581 रुपए मिलेंगे फ्री गैस सिलेंडर के लिए इस महीने- प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की दूसरी किस्त जारी

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

प्रधान मंत्री स्वामित्व योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन पत्र प्रस्तुत करने के लिए आप यहाँ दिए निम्नलिखित आसान स्टेप्स को फॉलो करें।

  • इसके लिए सबसे पहले आप विभाग द्वारा लॉन्च की गई ऑफिशल वेबसाइट पर जाए ।
  • इसके बाद होम पेज में आपको New Registration का ऑप्शन दिखेगा उस पर क्लिक करें।
  • Form में मांगी गई समस्त जानकारियों जैसे नाम ,राज्य ,जिला ,गाँव ,पिनकोड और मोबाइल नंबर को ध्यानपूर्वक सही से भरें।
  • अंत: में Submit बटन पर क्लिक करें।
  • आपके मोबाइल नंबर अथवा ईमेल आईडी पर आपका user id और password भेज दिया जाएगा।
  • इस प्रकार आप सफलतापुर्वक अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन इस सेवा का लाभ उठा सकेंगे।
निष्कर्ष

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को देश के समस्त ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को उनकी प्रॉपर्टी का मालिकाना हक दिलाने एवं भूमि संपत्ति रिकॉर्ड के रखरखाव में क्रांति लाने के उद्देश्य से शुरू की गई एक सरकारी योजना है । इस योजना के सम्पूर्ण देश में लागू होने के बाद भूमि सम्बन्धी विवादों, भू-माफियाओं द्वारा किये जा रहे फर्जीवाड़े को खत्म किया जा सकेगा। ग्राम स्वराज पोर्टल की सहायता से ग्रामीण लोग अपनी जमीनों से संबंधित सभी जानकारी ऑनलाइन देख सकेंगे।

इसे भी पढ़े : ई-ग्राम स्वराज पोर्टल क्या है ?

PM Swamitva Yojana से सम्बन्धित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब

PM स्वामित्व योजना क्या है ?

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा हाल ही में लॉन्च की इस स्वामित्व योजना के माध्यम से सम्पूर्ण देश के ग्रामीण इलाकों में आवासीय जमीन की ड्रोन की मदद से पैमाइश कर मालिकाना प्रमाण पत्र (Title Deed Certificate) दिया जाएगा। जिसके बाद भूमि संपत्ति रिकॉर्ड के रखरखाव में सहूलियत मिलेगी और प्रॉपर्टी को लेकर जो भ्रम की स्थिति रहती है वो दूर हो जाएगी।

स्वामित्व योजना क्यों शुरू की गई ?

इस योजना की आवश्यकता तब महसूस की गई जब ग्रामीण क्षेत्रों में कई ग्रामीणों के पास अपनी भूमि के स्वामित्व को साबित करने वाले कागजात नहीं हैं। ज्यादातर राज्यों में, गांवों में आबादी वाले क्षेत्रों का सर्वेक्षण और माप, संपत्तियों के सत्यापन / सत्यापन के उद्देश्य से नहीं किया गया है।

स्वामित्व योजना किन-किन राज्यों में शुरू की गई है ?

फिलहाल यह योजना देश के 6 राज्यों उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में प्रायोगिक तौर पर एक्सपेरिमेंट के तौर पर शुरु की जा रही है। भविष्य में इस योजना को पुरे देश में लागु किया जाएगा .

दोस्तों उम्मीद करते है की पीएम मोदी द्वारा 24 अप्रैल को शुरू की  PM Swamitva Yojana ग्राम पंचायतों के विकास कार्यों को एक नई दिशा प्रदान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी . आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी कैसी लगी और योजना से सम्बन्धित अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखे आपकी हर सम्भव मदद की जायेगी .धन्यवाद

Important Link:
PM Swamitva Yojana Link>>www.egramswaraj.gov.in
Download App Link>>Download Here
Press Information>>Click Here
Print Friendly, PDF & Email

4 COMMENTS

  1. […] ई-ग्राम स्वराज पोर्टल (E-Gram Swaraj Portal) और स्वामित्व योजना (pm swamitva yojana) की शुरुआत की है . आइए जाने इस योजनाओं की […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here